Ustaaj Lyrics – Amit Saini Rohtakiya

Haryanvi song Ustaaj Lyrics sung by Amit Saini Rohtakiya. Music is given by GR Music Panipat and Lyrics written by Amit Saini Rohtakiya.

SingerAmit Saini Rohtakiya
MusicGR Music Panipat
Song WriterAmit Saini Rohtakiya

Ustaaj Lyrics

अरे काबू मे नहीं आरा रे यों ध्याड़ी लानिया
बया शादिया मे रे प्लेट ठानिया
तेरे शहर के स्टारा ने लारा कुण मे
जिसने कवह था तू मामूली गानिया

अरे ऑटो ते ले बहार रपीट बार बार
अरे ऑटो ते ले बहार रपीट बार बार
उने राज कवह

जे तेरे एरिये मे तन्ह बदमाश कवह
मेरे एरिये मन्ह उस्ताज कवह
जे तेरे एरिये मे तन्ह बदमाश कवह
मेरे एरिये मन्ह उस्ताज कवह

मै तुझे मरने नहीं आया लाला

अरे तैरते मांगी थी स्पॉट तन्ह जड़ काट दी
भूल गया के बात तन्ह याद करवाऊ
तिल चटा के तू फ़ोन करवाह
तू खान ने देदे गा जे मै घरा बैठ जाऊ

तैरते मांगी थी स्पॉट तन्ह जड़ काट दी
भूल गया के बात रे वे याद करवाऊ
तू तिल चटा के तू फ़ोन मरवाह
तू खान ने देदे गा जे मै घरा बैठ जाऊ

गाउ सारी सारी रात लागह दिल पे जो बात
गाउ सारी सारी रात लागह दिल पे जो बात
उन्ह आवाज कवह

जे तेरे एरिये मे तन्ह बदमाश कवह
मेरे एरिये मन्ह उस्ताज कवह
जे तेरे एरिये मे तन्ह बदमाश कवह
मेरे एरिये मन्ह उस्ताज कवह

अरे आन दे रे टेम घंटी लेई जावेगी
ओछी बात करी से तो कई जावेगी
रे गरीब स तो के होया सु अपने घर ने
निरी बदमाशी नहीं शयी जावेगी

अरे आन दे रे टेम घंटी लेई जावेगी
ओछी बात करी से तो कई जावेगी
रे तू लैंडलोड होगा तू छोटे अपने घर ने
याढ़े बदमाशी नहीं शयी जावेगी

रे मेरा यार से GR कति काम आर पार
रे मेरा यार से GR कति काम आर पार
अरे गानया बजवह उने साज कवह

जे तेरे एरिये मे तन्ह बदमाश कवह
मेरे एरिये मन्ह उस्ताज कवह
अमित सैनी रोहतकिया